मौसम : देश में मिलाजुला रहेगा आगामी मौसम, इन इलाकों में बारिश का अलर्ट

नई दिल्ली : देश में अगस्त माह से त्योहारों की झड़ी लग जाती है और यदि इस मौसम में बारिश का सिलसियल जारी रहता है तो इस माह में त्योहारों में चार चाँद लग जाता है | मौसम विभाग ने इस मौसम में देश में फिलहाल कुछ दिनों मौसम का मिजाज मिलाजुला रहने की उम्मीद जताई है यदि मौसम विभाग की अनुमान की अनुसार बारिश होती रहती है तो ऐसे में देशवासियों को खरीदारी करने में दिक्कत हो सकती है। हालांकि, इस बार सभी त्योहार का रंग कोरोना की वजह से भी उड़ गया है।

वहीं, महामारी के कारण सभी टीमें कार्यों में लगी है और ऊपर से देश के कई इलाकों में भारी बारिश और बाढ़ से मुसीबत अधिक बढ़ गई है। काफी समय से देशभर के अलग-अलग इलाकों में बारिश हो रही है। मौसम विभाग द्वारा भी पिछले कई दिनों से काफी जगहों पर भारी से भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। अब मौसम की जानकारी देने वाली संस्था स्काईमेट ने भी आने वाले कुछ समय में भारी बारिश से संबंधित बुलेटिन जारी किया है।

स्काईमेट के अनुसार, मानसून की अक्षीय रेखा गंगानगर, नारनौल, इटावा, वाराणसी और पटना होते हुए पूर्वोत्तर भारत में मेघालय और दक्षिणी असम पर है। वहीं, उत्तर-पूर्वी उत्तर प्रदेश से मध्य प्रदेश के दक्षिण-पश्चिमी भागों तक एक ट्रफ रेखा बनी हुई है।

वहीं, स्काईमेट ने आने वाले 24 घंटों के लिए मौसमी बुलेटिन जारी करते हुए उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम के कुछ हिस्सों, मेघालय, उत्तर-पूर्वी उत्तर प्रदेश और तटीय कर्नाटक में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश की संभावना जताई है। इसके अलावा पूर्वोत्तर भारत के बचे हुए इलाकों, झारखंड, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, पश्चिमी उत्तर प्रदेश, कोंकण गोवा, केरल, आंध्र प्रदेश, लक्षद्वीप, अंडमान व निकोबार द्वीपसमूह और मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश होने के आसार लगाए गए हैं।

Related posts