दलित विरोधी है योगी सरकार – मायावती

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती ने प्रदेश की योगी सरकार को एक बार फिर से ट्विट कर के योगी सरकार को घेरे में लिया, उन्होंने कहा की अयोध्या में कि पांच अगस्त को होने वाले राममंदिर पूजन समारोह में अगर दलित महामंडलेश्वर स्वामी कन्हैया प्रभुनंदन गिरि को भी बुला लिया जाता तो बेहतर होता। उन्होंने कहा कि महामंडलेश्वर की शिकायत है कि भूमि पूजन में 200 साधु-संतों के साथ उन्हें भी बुलाया जाना चाहिए था। वही प्रदेश सरकार पर तीखा हमला करते हुए कहा की भारतीय जनता पार्टी दलित विरोधी है, इस लिए वह किसी बड़े संत महात्मा को तवज्जो न देते हुए जातिवाद पर हावी हो गयी है।

यह भी पढ़ें – मायावती ने योगी को दी नसीहत ,पूर्व की सरकारों से सीखें कानून व्यवस्था

उन्होंने कहा कि वैसे जातिवादी उपेक्षा, तिरस्कार और अन्याय से पीड़ित दलित समाज को इन चक्करों में पड़ने के बजाये अपने उद्धार हेतु श्रम-कर्म में ही ज्यादा ध्यान देना चाहिए और इस मामले में भी अपने महीसा परपूज्य बाबा साहेब डा. भीमराम अंबेडकर के बताए रास्ते पर चलना चाहिए। यही बीएसपी की उनको सलाह है।

यह भी पढ़ें – अगले आदेश तक ममता ने लगायी उड़ानों पर रोक

यह भी पढ़ें – EMI को लेकर अगले हफ्ते बड़ा फैसला ले सकती हैं RBI

यह भी पढ़ें – ट्रेनिंग कैंप को बुलाने पर विचार कर रही है दिल्ली कैपिटल्स

 

Related posts